पूर्व प्रधान पिंकी चौधरी की लव-इन रिलेशनशिप स्टोरी में आया नया मोड़, कथित प्रेमी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया

पूर्व प्रधान पिंकी चौधरी की लव-इन रिलेशनशिप स्टोरी में आया नया मोड़
पूर्व प्रधान पिंकी चौधरी की लव-इन रिलेशनशिप स्टोरी में आया नया मोड़

बाड़मेर: समदड़ी की पूर्व प्रधान पिंकी चौधरी एक बार फिर चर्चा में आ गयी हैं । उनकी लिव-इन रिलेशनशिप स्टोरी में नया मोड़ आ गया है । कुछ माह पूर्व पति को छोड़कर अपने कथित प्रेमी अशोक के साथ लिव-इन रिलेशन में रहने वाली पूर्व प्रधान ने अब उसी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है । मामला दर्ज कराने के लिये पूर्व प्रधान पिंकी मंगलवार रात 9 बजे खुद पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची । बाद में उन्हें वहां से महिला थाने भिजवाया गया । इससे बाड़मेर में एक बार फिर राजनीतिक भूचाल आने की संभावनायें बन गई हैं । पूर्व प्रधान का कहना है कि उसे और उसके ससुराल वालों की जान पर खतरा है । बड़े राजनीति के दबाव के चलते उसे डरा-धमकाकर 4 दिन तक जयपुर रखा गया और फिर परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी गई ।

मामला दर्ज कराने के लिये पूर्व प्रधान पिंकी मंगलवार रात 9 बजे खुद पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची ।
मामला दर्ज कराने के लिये पूर्व प्रधान पिंकी मंगलवार रात 9 बजे खुद पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची ।

कुछ माह पहले घर छोड़कर चली गई थी


बीजेपी से जुड़ी पूर्व प्रधान कुछ माह पहले घर छोड़कर चली गई थी । इससे यह मामला सोशल मीडिया और मीडिया में यह मामला काफी गरमाया रहा था । पूर्व प्रधान के पिता ने उसके लापता होने का मामला दर्ज कराया तो अफवाहों का बाजार और गर्म हो गया । उसके घर छोड़ने के तीन दिन बाद वह गोलिया चौधरियान गांव में अशोक कुमार के साथ उसके घर पर मिलीं । वहां पूर्व प्रधान ने पुलिस के दिये बयानों में साफ कहा था कि वह पति से तलाक होने तक अपने प्रेमी के साथ लिव इन रिलेशन में रहेंगी । इससे एकबारगी मामला शांत हो गया । लेकिन मंगलवार रात इस मामले में फिर भूचाल आ गया ।

Marwad Education Barmer

पुलिस अधीक्षक ने करवाई सुरक्षा मुहैया


पूर्व प्रधान मंगलवार रात को पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची और अशोक से खुद की जान का खतरे का आरोप लगाया । पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत महिला थाने में मामला दर्ज करने के आदेश देकर उन्हें पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाई । पीड़िता का कहना है कि उसे व उसके परिवार को जान माल का खतरा है. पुलिस जल्द आरोपियो को गिरफ्तार करे ।

लगातार 2 माह तक दबाव बनाकर उससे मारपीट करने का आरोप


पीड़िता ने बताया कि अशोक ने लगातार 2 माह तक दबाव बनाकर उससे मारपीट की और उन्हें पुलिस अधीक्षक के नाम ई-मेल करने के लिए मजबूर किया । ससुर के खिलाफ कार्रवाई करवाने की बात कही । लेकिन अब वह अपने पूर्व पति के साथ ही रहना चाहती है । पूर्व प्रधान से जब दबाव बनाने वाले लोगों के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि यदि नाम बताया तो वो उसे जान से मार देंगे । महिला थानाधिकारी लता बेगड़ के अनुसार पीड़िता की रिपोर्ट के आधार पर 344, 384, 323, 120B के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है ।